What Supreme Court says about Aadhaar Card

Loading

आधार – सुप्रीम कोर्ट के फैसले की खास बातें

कुछ शर्तों के साथ आधार अनिवार्य, जानें सुप्रीम कोर्ट के फैसले की बड़ी बातें
सुप्रीम कोर्ट के फैसले की खास बातें
– 6 से 14 वर्ष तक के बच्चों के लिए स्कूलों में दाखिले के लिए आधार कार्ड अनिवार्य नहीं है।
– बैंक खाता खुलवाने के लिए आधार कार्ड अनिवार्य नहीं है।
– पैन कार्ड लिंक करवाने के लिए आधार कार्ड अनिवार्य है।
– मोबाइल कंपनियां आधार कार्ड की मांग नहीं कर सकती हैं।
– नया सिम कार्ड लेने के लिए आधार अनिवार्य नहीं है।
– यूजीसी, नीट और सीबीएसई परीक्षाओं के लिए आधार अनिवार्य नहीं है।
– बॉयोमेट्रिक डाटा अदालत की अनुमति के बिना किसी भी एजेंसी के साथ साझा नहीं किया जाएगा।
– सरकार को यह सुनिश्चित करने की जरूरत है कि अवैध प्रवासियों को आधार कार्ड न मिले।
 – आधार योजना के सत्यापन के लिए पर्याप्त रक्षा प्रणाली है। जितनी जल्दी संभव हो, आंकड़ों की सुरक्षा के लिए मजबूत तंत्र बनाया जाए।
– आधार समाज के वंचित तबके को सशक्त बनाता है और उन्हें पहचान देता है।
– नकली आधार कार्ड प्राप्त करने की कोई संभावना नहीं है।
– निजी कंपनियों को आधार के आंकड़े एकत्र करने की अनुमति देने वाले आधार कानून के प्रावधान 57 को रद्द कर दिया है।
फैसला सुनाते हुए जस्टिस सीकरी ने कहा कि शिक्षा हमें अंगूठे से हस्ताक्षर तक ले गई, लेकिन एक बार फिर तकनीक हमें हस्ताक्षर से अंगूठे की ओर ले जा रही है
What Supreme Court says about Aadhar Card- 
1.Three Out Of Five Supreme Court Judges Uphold Legality Of Aadhaar
(There are three judgements. One by J. Sikri. CJI and J. Khanwilkar concur with him. Other two judgments are by J. Chandrachud and J. Bhushan.)
2.Bank Accounts Need Not be Mandatorily Linked to Aadhaar: SC
3. Aadhaar Act Does Not Violate Privacy of Citizens: SC
4. Aadhaar Not Compulsory For School Admissions: SC
5. SC strikes down Section 57 of Aadhaar Act which allows private entities to demand Aadhaar to access services.
6. Aadhaar can be passed as money bill
7. Pan-India linking of Aadhaar is valid
8. Top court strikes down mobile-Aadhaar linking
9.  Aadhaar cannot be mandated for opening of bank accounts.

Menu