“कॅरोना वायरस का व्यापार पे असर”- By CA. R. L Kabra ji, Mumbai

0
308
BUSINESS 4

“कॅरोना वायरस का व्यापार पे असर”- By CA. R. L Kabra ji, Mumbai

कोरोना वायरस का कारोबार पर असर
By CA आर.एल.काबरा
अर्थमंत्री .,अ.भा.व.मा.महासभा
मोबाइलन .०९८२०१३१३४५
ईमेल:-rlkabra@rkabra.net

कोरोना वायरस चीन को अपनी चपेट में लेकर पूरे ववश्व के साथ भारत में भी फैल गया । इसने चीन अथथव्यवस्था को तो प्रभाववत ककया ही यह ववश्व की अथथव्यवस्था के ललए भी खतरा बन चुका है और भारत उससे परे नहीीं है ।पूरे देश में लोक डाउन एवीं जनता कर्फयूथ है ,वकथ फ्रॉम होम की कोलशश की जा रही है सेंसेक्स ननचले स्तर पर है लोग घरों में हैं कारखाने बींद है तथा व्यापाररयों की दुकानें एवीं ऑकफस ठप्प तथा बींद पडे हैं। यातायात के साधन सब बींद पडे है शायद ऐसा समय पहले ककसी ने भी नहीीं देखा होगा । आइये समझे की कोरोना वायरस का आने वाले समय में कारोबार पर क्या असर पडेगा एव माहेश्वरी समाज जो कक प्राय व्यापाररक समाज है कैसे इस कठठन घडी में अवसर ढूींढ कर नुकसान के साथ फायदे का भी अवसर ढूींढ सकता है ताकक भववष्य में अपने व्यवसाय में पैर जमाए रख सके तथा देश दुननया की माींग पर वतथमान कठठन समय में तन ,मन एवीं धन से सरकार का साथ देकर इस महामारी के हाहाकार मचे माहौल से जल्दी मुकाबला कर सके ।

देश में कोरोना वायरस से ननपटने की तैयारी युद्ध स्तर पर चल रही है भारतीय अर्थव्यवस्र्ा को इसके असर से बचाने के ललए ररजवथ बैंक ने भी कई कदम उठाए हैं जजसमें लाांग टमथ रेपो आपरेशन का दायरा बढ़ाना,ब्याज दरें घटाना तर्ा डॉलर की खरीदी बबक्री भी शालमल है। इससे इांडस्री पर पड़ने वाले असर को कम करने के ललए सरकार ने सेक्टोरल पैकेज की तैयारी की है और इसके तहत अलग-अलग सेक्टरों के ललए खास योजनाएँ बनायीां है । इसके ललए सरकार के प्रधानमांत्री कायाथलय, ववत्त मांत्रालय, उद्योग मांत्रालय और नीनत आयोग के बीच काफी ववचार-ववमशथ हुआ है । फामाथ सेक्टर जैसे पर खास फोकस देखकर दवा कांपननयों को अपने कच्चे माल (API) की उत्पादन क्षमता बढ़ाने पर प्रोत्साहन के सार् नई कांपननयाां लगाने वालों को ववशेष ररयासत दी जा रही है । इलेक्रॉननक कम्पोनेंट बनाने वाली कम्पननयो को भो प्रोत्साहन ददया गया है तर्ा सरकार ने अलग-अलग जस्कम व्यपाररयो के ललए तैयार की है । आप का ध्यान ननम्न बबन्दुओ पर भी चाहुँगा ;

1. कोरोना वायरस का देसी कारोबार पर प्रनतकूल प्रभाव पड़ना चालू हो गया है चीन से कच्चे माल का आयात बांद होने से दवाओां और चचककत्सा उपकरणों के मूल्य में वृद्चध हुई है। इसे आप चुनौनत के सार्-सार् अवसर भी समझिए तर्ा मौके का फायदा उठाने के ललए मेक इन इांडडया के तहत अपने कारोबार को बढ़ाकर सरकार के ददए हुए प्रार्लमक क्षेत्रों में औद्योग लगाने की चेस्टा करे ।

2. कोरोना वायरस से देसी कारोबार पर बुरे असर के सार् ही ननयाथत के मामले में मौका भी है भारत ऐसे कई देशों को ननयाथत करता है, जजनमें चीन भी ननयाथत कर रहा है। कोरोना वायरस के कारण चीन में बहुत मल्टी नेशनल अपनी फैक्री कई और देशों में लगाना चाहते हैं जजसमें भारत की प्रार्लमकता प्रर्म स्र्ान पर है। दूसरे देशों में जैसे कक अमेररका, यूके, यूरोप, लसांगापुर इत्यादद में कोरोना वायरस के कारण इन देशों को चीन का ननयाथत र्मेगा जो कक भारत के ललए एक अच्छा अवसर होगा।

3. देश के होटल पयथटन उद्योग, ऑटोमोबाइल क्षेत्र, ररयल स्टेट एवां अन्य क्षेत्रों की जस्र्नत चरमरा गई है रोजमराथ की चीजें महांगी हो गई हैं अतः ‘’केशी ही ककांग’’ वाली कहावत लसद्ध होने लगी है। आपके पास काफी कम्पननयाँ कौडड़यों के भाव बबकने के ललए आएगी। जजन्हें आप अवसर आने पर खरीद सकेंगे बशते कक आप देश को एवां अपने व्यापार को कोरोना वायरस से प्रभाववत होने से बचाने के ललए सरकार के उठाए ठोस कदमों पर सहयोग देंगे ।

4. एक तरफ चीन में ननलमथत स्माटथफोन की भारत में अब कमी, चीनी सामान बाजार में कम होना इत्यादद कारणों से देसी सामान की बबक्री को मजबूती लमलेगी तो दूसरी तरफ चीन की तरफ से माांग में कमी के कारण ववश्व स्तर पर कई उत्पाद सस्ते हो जाएांगे तर्ा भारतीय अर्थव्यवस्र्ा में इसका सकारात्मक असर पड़ेगा तर्ा हमारी चीन पर ननभथरता तो कम होगी ही सार्-सार् भुगतान सांतुलन में भी सुधार आएगा। भारत चीन के बादववश्व में दूसरा घनी आबादी का देश है अतः घरेलू माकेट में खपत होने वाले सामान की बबक्री को बढ़ावा लमलेगा इसललए अपने व्यवसाय को अब आपको इसी दूर दृजटट से देखना होगा।

5. गोल्ड मेन सेक्स के मुताबबक तीन तरह के मांदडड़या बाजार होते हैं पहला जो कक युद्ध, तेल की कीमतों में बढ़ोतरी या उभरते बाजारों के सांकट जैसे ववशेष घटनाक्रम से सांचाललत होते हैं यह घटनाएां भारत में नोटबांदी या अमेररका में 9/11 जैसी घटनाएां हो सकती हैं। दूसरा जो कक ब्याज दरों में बढ़ोतरी, मांदी की आशांका और लाभ में चगरावट जैसे कारणों के चलते आचर्थक चक्र में बदलाव से होते है तर्ा सूचकाांत के मूल्य को मांदडड़यों के हवाले कर देते हैं तर्ा तीसरा ढाांचागत मांदडड़या बाजार होता है जो अर्थव्यवस्र्ा में भारी असांतुलन और ववत्तीय बुलबुलो की वजह से पैदा होता है। सवाल यह है कक अभी कौन मांदडड़या बाजार है अर्वा यह है भी या नहीां । मेरी राय से अगर इस महामारी को एक या 2 महीने में हम ननयांबत्रत कर लेते हैं जजसका अनुमान है तो हमारे पास व्यवसाय के एवां ललवाली के भारी मौके होंगे अर्वा हम गांभीर आचर्थक सांकट के कगार पर खड़े हैं और हमें इन हालात में सरकार को सहयोग देकर देश की अर्थव्यवस्र्ा को खतरे से बचाना होगा तर्ा अपने साधन सीलमत करने होंगे क्योंकक यदद हम सरवाइव करेंगे तो व्यवसाय बढ़ाने में हम कैसे भी बढ़ाकर आनांद लेकर व्यवसाय की सफलता की ऊांचाइयाां छू सकते हैं।

6. जो कांपननयों के सार् कोई अनुबांचधत एग्रीमेंट है जजसके तहत आपको ककसी भी तरह से आने वाले समय में आप सप्लाई अर्वा सववथस नहीां दे पाते हैं तो उन्हें अपने कॉन्रैक्ट के फ़ोसथ मेजर क्लाज की शरण लेना चादहए तर्ा उसका सहारा लेकर भारी नुकसान पेनल्टी एवां कोटथ कचहरी से बचा जा सकता है।

7. कोरोना वायरस को लेकर यदद आपका व्यवसाय वतथमान वषथ में 31 माचथ 2020 तर्ा अगले कुछ समय के ललए प्रभाववत होता है तो आपके अांकेशीत खातों में इसका इफेक्ट देकर उल्लेख करना होगा। चाटथडथ अकाउांटेंट इांजस्टट्यूट ने इस मामले में गाइडलाइन प्रसाररत करी है अतः अपने ऑडडटर या सलाहकार से समय अनुसार इसको समिे एवां होने वाले अपने आांकड़ों में यह क्या प्रभाव डालेगा इसे देखें तर्ा यदद इसका नेगेदटव प्रभाव होकर आपके सारे रेशों खराब हो जाते हैं एवां आपने बैंको से कजथ ले रखा है, एवां आप चुकाने में असमर्थ है, तो आपको अभी से तैयारी करके बैंक को तर्ा अन्य स्टेक होल्डर को अवगत कराना चादहए।

8. सजजथकल मास्क, सैननटाइजर, वेन्टीलेटर और स्टरलाइज वाइप्स के उत्पादन में मौकों को भुना ने कई नए व्यापारी एवां कांपननयाां उतर गई हैं। कांपननयाां अपने मुख्य कारोबार से हटकर इन प्रोडक्ट को बनाने में लग गई हैं माकेट में स्टॉक नहीां है। भाव आसमान छू गए हैं उदारणार्थ ददल्ली की एक इकाई कलर फयूल जो कक अभी तक मदहलाओां की ड्रेस और कुते बना बना रही र्ी अब सजजथकल मास्क बना रही है जो रोजाना इस्तेमाल के बाद फेंक ददए जाते हैं। मेरी राय यही रहेगी कक कक आप कम पूांजी में अपने वतथमान फैक्टरी में अर्वा अन्य साधनों के तहत इन चीजों का उत्पादन कर सकते हैं तो शायद आपकी लगाई हुई पूांजी बहुत ही जल्दी अच्छे पररणाम देगी तर्ा आप नया व्यवसाय ढूांढ लेंगे जजसकी आने वाले समय में भरपूर माांग रहने वाली है। माांग के सार् कीमतें भी बढ़ रही हैं।

9. सववथस सेक्टर पर खासतौर से नजरें बनाए रखने की जरूरत है क्योंकक कोरोना वायरस के प्रसार से सबसे ज्यादा सांकट इन्हीां पर आया है इस महामारी ने लोगों को घर से ऑकफस का काम करने के ललए मजबूर कर ददया है कांपननयाां अपने कमथचाररयों को वकथ फ्रॉम होम का ऑप्शन दे चुकी हैं मेरी राय रहेगी कक आप अपने लैपटॉप, आई पेड एवां मोबाइल के सहारे डडजजटल अर्थव्यवस्र्ा में अपने आप को व्यवजस्र्त करके consolidate करें वीडडयो कॉन्फ्रेंस करें। नए प्रोग्राम डाउनलोड करके कुछ चचांतन करें तर्ा आपके भववटय के उद्देश्य को ननधाथररत करें। इस महामारी से आईटी कांपननयों की आय घटेगी क्यों कक अमेररका एवां यूरोप की ववत्तीय सेवाएां, ररटेल और ऊजाथ क्षेत्रों पर ज्यादा ननभथरता आई टी कांपननयों की रहती है। इन आई टी एवां सववथस कांपननयों का मूल्याकांश सांवेदन शील दायरे में है ।

10. यदद आप कॉपोरेट सेक्टर से हैं तो सी एस आर के माध्यम से सावथजननक दानयत्व ननभाने का यह अच्छा अवसर है प्रधानमांत्री ररलीफ फांड में ददया हुआ पैसा सी एस आर में खचथ माना जाएगा। एवां यह लसद्ध है। कक कॉपोरेट क्षेत्र ने हमेशा ही हर सांकट में सरकार को मदद की है तर्ा सांकट से मुकाबला करने के ललए आगे रहे हैं सरकार ने एक तरफ प्राइवेट सेक्टर में काम करने वाले कमथचाररयों को नौकरी से नहीां ननकालने एवां उनका वेतन नहीां काटने का ननदेश ददया है तो दूसरी तरफ उनके कायाथलय एवां कारखाने बांद है। अतः भारी नुकसान हो रहा है। समय बलवान है आने वाला समय ही इसमें सांतुलन लाएगा। सबसे ज्यादा मुजश्कल डेली वेजेस एवां छुटका कमथचाररयों को है जो अपने रोजी रोटी हमेशा मुजश्कल से चलते है। ननष्कर्थ ; कोरोना वायरस का कई देशों के अलावा भी भारतीय अर्थव्यवस्र्ा पर इसका सीधा असर पड़ रहा है करीबन 3 चौर्ाई से ज्यादा बबजनेस का यह माना है कक उनके ऑडथर में कोरोना की वजह से बड़ी भारी चगरावट आई है, केश फोलो में कमी आई है, सप्लाई चैन पर भी रेन, हवाईयात्रा, कोररयर, राांसपोटथ इत्यादद बांद होने से बुरा असर पड़ा है | FICCI के एक सवे के अनुसार लोगों का यह मानना है कक जस्र्नत को काबू में आने में करीबन 6 महीने लग जाएगी। आजकल नवराबत्र में मेरे रामायण के पाठ में तुलसीदास जी के ललखे ननम्नललझखत श्लोक चररतार्थ लगते हैं | ‘’ सुनन ससोच कह देबब सुलमत्रा, ववधध गनत बड़ड ववपरीत बबधचत्रा | जो सुजज पालइ हरही बहोरी, बाल केलल सम ववधध मनत भोरी || ‘’ अर्ाथत सुलमत्रा जी दुख के सार् सुनैना को बोलते हैं कक ववधाता की गनत बडी उल्टी और अनौखी होती है जो जगत को उत्पन्न करके पालता है कफर नटट कर डालता है क्योंकक ववचध की बुद्चध बालक के खेल के तुल्य भोली है|
‘’ कौशल्या कह दोसु न काहू, करम बबबस दुख सुख छनत लाहु | कठठन करम गनत जान ववधाता,जो सुभ असुभ सकल फल दाता ||’’ अर्ाथत कौशल्या जी कहते हैं कक दोश ककसी का नहीां है, दुख सुख, हानन लाभ कमथ के आधीन है एवां कमथ की कदठन गनत को ववधाता ही जानता है क्योंकक वही भले बुरे कमों का फल देता है | इस दुख की घड़ी में मेरे, आपके एवां पूरे माहेश्वरी समाज की तरफ से हम सभी देशवालसयों की सुरक्षा की कामना करते हैं एवां आप घर में रहे, बाहर ना ननकले तर्ा सावधानी बरतें | जान है तो जहान है| समाज बांधुओां को व्यवसाय के अवसर प्रनतकूल समय पर जरूर लमलेंगे यहीां मेरी आशा एवां शुभकामनाएां है |

 

********************************************************

For Tax & Corporate Law Updates on Mobile, we have created Telegram and Whatsapp Group with following Link:

Telegram Group at –

  1. https://t.me/TaxTalkk

Whatsapp Group at

  1. https://chat.whatsapp.com/LLhXDbRaHFx2rsNt8fxYyF
  2. https://chat.whatsapp.com/DQpNmCSlWYbLWMQC6eQy1S
  3. https://chat.whatsapp.com/FXZeZ1jqZMrDzBmGOBT4VE

Income Tax Act on Your Mobile Now
Android Application
for
Income Tax Act – 1961 with Cost Inflation Index
and other tools on Mobile now at following link:

1. https://play.google.com/store/apps/details?id=com.thetaxtalk&hl

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here